“2024 नए साल की खास रेसिपी: नए साल के लिए स्वादिष्ट खाना”

65

दही वाली चटनी

दही धनिया की चटनी या दही वाली चटनी खास पसंददीदा देशी चटनियों में से एक है. इसे मोमोज, तंदूरी पनीर टिक्का, आलू वेजेज, बिरयानी से लेकर दोसा, समोसा रोटी सब्जी चावल तक किसी के भी साथ परोस सकते हैं.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Tandoori Curd Chutney

  • धनिया- 100 ग्राम
  • पोदीना – 2-3 टेबल स्पून
  • दही – 1/2 कप (100 ग्राम)
  • नमक – 3/4 छोटी चम्मच
  • हरी मिर्च – 2-3
  • अदरक पेस्ट – 1/2 छोटी चम्मच
  • हींग – 1 पिंच

विधि – How to make Dahiwali Pudina ki Chutney

  • हरे धनिये को मोटी डंडियां हटाकर अच्छी तरह धो लीजिये,
  • और छलनी में रखकर पानी निकल जाने दीजिये,
  • इसी तरह पोदीने की पत्तियां धोकर छलनी में रख दीजिये.
  • हरी मिर्च के डंठल तोड़ कर धो लीजिये.
  • हरे धनिये को मोटा मोटा काट लीजिये,
  • हरी मिर्च के बड़े टुकड़े बना लीजिये.
  • मिक्सर जार में हरा धनियां, पोदीना और हरी मिर्च डालिये,
  • नमक, हींग और दही डाल दीजिये,
  • जार को बन्द कीजिये और अच्छी बारीक चटनी पीस कर तैयार कर लीजिये.
  • चटनी को निकाल कर प्याले में रख लीजिये,
  • दही वाली चटनी को फ्रिज में रखकर 5-6 दिन तक यूज कर सकते हैं.

एक प्याली चटनी के लिये समय – 10 मिनिट

आंवला की मीठी चटनी

सर्दियों के आते ही प्रतिरोधक व पोषक तत्वों ने भरपूर आंवला हमें किसी न किसी तरह अपने रोजाना के भोजन में शामिल कर लेना चाहिये. आज प्रस्तुत है तुरत फुरत बन जाने वाली आंवला की मीठी चटनी.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Amla Meethi Chatni

  • आवंला – 250 ग्राम
  • गुड़ – 250 ग्राम
  • नमक – ½ छोटी चम्मच
  • काला नमक – 1 छोटी चम्मच
  • इलायची पाउडर – ½ छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर – ¼ छोटी चम्मच
  • गरम मसाला – 1 छोटी चम्मच

विधि – How to make Amla Sweet Chutney

  • किसी बर्तन में आंवले और ½ कप पानी डालकर उबलने के लिए गैस पर रख दीजिए.
  • आंवले को नरम होने तक पकाएं.
  • आंवले 10-15 मिनिट में उबल कर तैयार हो जाते है,
  • गैस बंद कर दिजिए और इन्हें प्याले में निकाल लीजिए.
  • आंवले के बीज हटा दीजिए और इन्हें मिक्सर जार में डालकर पेस्ट बना लीजिए.
  • पिसे हुये आंवले को पैन में डाल दीजिए,
  • गैस आन कर लीजिए,
  • गुड़, नमक, काला नमक, इलायची पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और गरम मसाला डाल कर मिला दीजिए
  • और मिश्रण को धीमी आंच पर पकने दीजिए.
  • इसे बीच बीच में चलाते रहें और अच्छा गाढा़ होने तक पका लीजिए.
  • चटनी बनकर तैयार है
  • इसे चैक करने के लिए थोडी़ सी चटनी को प्याली में निकाल कर देखें की वो बहे नहीं, सैट रहे.
  • अगर सैट है तो चटनी बनकर तैयार है.
  • गैस बंद कर दीजिए और इसे प्याले में निकाल लीजिए.
  • आंवले की मीठी स्वादिष्ट चटनी बनकर तैयार है,
  • आप इसे परांठे, पूरी या ब्रेड पर जैम की तरह लगा कर के खा सकते हैं.
  • आंवला मीठी चटनी को आप फ्रिज में रख कर के 3-4 महीने तक खा सकते हैं
  • और फ्रिज से बाहर रख कर के 1 माह तक खाने के लिए उपयोग कर सकते हैं.

सुझाव :

  • चटनी को बीच बीच में चलाते रहें,
  • चटनी कढ़ाई के तले में लगनी नहीं चाहिये.
  • आंवले की मीठी चटनी बनाने के लिये गुड़ की जगह चीनी का यूज भी किया जा सकता है.

समय – 30 मिनिट

राजस्थानी मलाई मिर्च

हरी मिर्च को छोंकने के बाद मलाई मिला कर पकाई हुई राजस्थानी मलाई मिर्च का तीखापन हल्का कम और स्वाद कई गुना बढ जाता है.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Rajasthani Malai Mirch

  • हरी मिर्च – 100 ग्राम
  • क्रीम – 2 -3 टेबल स्पून
  • तेल – 1 टेबल स्पून
  • जीरा – ½ छोटी चम्मच
  • हींग – 1 पिंच
  • धनिया पाउडर – 1 छोटी चम्मच
  • सौंफ पाउडर – 1 छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर – ¼ छोटी चम्मच
  • अमचूर पाउडर – ½ छोटी चम्मच
  • नमक – ½ छोटी चम्मच या स्वादानुसार

विधि – How to make Mirch with Cream Recipe

  • हरी मिर्च को अच्छी तरह धोकर सुखाकर इसके डंठल तोड़ कर छोटी-छोटी काट कर तैयार कर लीजिए.
  • पैन में तेल डालकर गरम होने दीजिए.
  • तेल गरम होने पर हींग और जीरा डाल दीजिए.
  • जीरा भून जाने पर इसमें हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर और सौंफ पाउडर डाल कर मसाले को थोडा़ सा भून लीजिए.
  • मसाले में हरी मिर्च डाल कर अच्छे से मिलायें,
  • नमक और अमचूर पाउडर डालकर मिला दीजिए
  • अब मिर्च को ढककर के 1 -2 मिनिट धीमी आंच पर पकने दीजिए.
  • इसके बाद चैक कीजिए.
  • मिर्च को अच्छे से चला दीजिए और इसमें क्रीम डाल कर लगातार चलाते हुए 1 मिनिट और पका लीजिए.
  • मलाई मिर्च बनकर तैयार है.
  • गैस बंद कर दीजिए और इसे प्याले में निकाल लीजिए.
  • स्वादिष्ट मलाई मिर्च को आप साईड डिश के रूप में परोसिये और खाईये. मलाई मिर्च को फ्रिज में रखकर सप्ताह भर खाया जा सकता है.

समय -5 मिनिट

कच्चे टमाटर की चटनी

कच्चे हरे टमाटर को भून कर बनाई चटनी हम किसी भी स्टार्टर, पकौडे, दोसा या उत्तपम के साथ परोस सकते हैं.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Green Tomato Chutney

  • कच्चे टमाटर – 4 (200 ग्राम)
  • ताजा नारियल – ½ कप कद्दूकस किया हुआ
  • मूंगफली – ¼ कप (भूनी हुई)
  • हरा धनिया – ½ कप (बारीक कटा हुआ)
  • तेल – 2 छोटी चम्मच
  • अदरक – 1 इंच
  • लाल मिर्च – 1
  • हरी मिर्च – 1
  • करी पत्ता – 7-8
  • उड़द दाल – ½ छोटी चम्मच
  • सरसों के दाने – 1/2 छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर- 1 पिंच
  • नमक – 1 छोटी चम्मच से कम या स्वादानुसार

विधि – How to make Raw Tomato Chutney

  • गैस पर जाली रख कर, टमाटर को जाली के ऊपर रख कर, ऊपरी परत काली होने तक भून लीजिए.
  • टमाटरों को भूनते समय घुमाते रहिये ताकि टमाटर चारो ओर से अन्दर तक अच्छी तरह भुनें.
  • जब ये भुन जांय तो ठंडा होने के बाद इन टमाटरों पर से छिलका उतार लीजिए.
  • मिक्सर में भूनी हुई मूंगफली, कद्दूकस किया हुआ नारियल, हरी मिर्च, अदरक, हरा धनिया, नमक और ¼ कप पानी डालकर पीस लीजिए.
  • दरदरा पिस जाने पर, भुने कटे टमाटर को डालकर एक बार फिर दरदरा पीस लीजिए.
  • चटनी को प्याले में निकाल लीजिए.
  • छोटी कढ़ाई में 2 छोटे चम्मच तेल डाल कर गरम कीजिये,
  • गरम तेल में राई और उड़द दाल डालिये,
  • राई तड़कने और दाल को हल्का सा ब्राउन होने तक भूनिये.
  • इसमें करी पत्ते और साबुत लाल मिर्च भी डाल दीजिये गैस बन्द कर दीजिये
  • और मसाले में लाल मिर्च पाउडर डालकर, इस तड़के को चटनी के ऊपर डालकर, मिला दीजिये.
  • हरे टमाटर की चटनी बनकर तैयार है.
  • इसे इडली, डोसा, परांठे किसी के भी साथ परोसिये और खाइये.

5-6 सदस्यों के लिये

समय 20 मिनिट

अमचूर की झटपट मीठी चटनी

दही बड़े या चाट में मीठी चटनी जरूरी होती है.

इमली की मीठी चटनी तुरत फुरत नहीं बनाई जा सकती लेकिन लेकिन अमचूर पाउडर से ये मीठी चटनी उतनी ही स्वादिष्ट, तुरन्त बहुत जल्दी बनाई जा सकती है.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for amchoor sweet chutny

  • गुड़ – 1 कप (200 ग्राम)
  • अमचूर पाउडर – ¼ कप (30 ग्राम)
  • खजूर – 7-8
  • लाल मिर्च पाउडर – ½ छोटी चम्मच
  • अदरक पाउडर – 1 छोटी चम्मच
  • गरम मसाला – 1 छोटी चम्मच
  • काला नमक – 1 छोटी चम्मच

विधि – How to make Instant Khatti Meethi Tangy Chutney

  • अमचूर पाउडर से चटनी बनाने के लिए एक भगोने में अमचूर पाउडर, 1 कप पानी, बारीक तोड़ कर लिया हुआ गुड़ डाल कर धीमी आंच पर पकने के लिए रख दीजिए.
  • खजूर को लम्बाई में पतला-पतला काट लीजिए.
  • गुड़ के अच्छी तरह से पानी में घुल जाने पर इसमें काला नमक, गरम मसाला, अदरक का पाउडर, लाल मिर्च पाउडर डालकर मिला दीजिए.
  • मसाला डालने के बाद चटनी को 5 मिनिट और पकाएं,
  • इसके बाद इसमें काट कर रखे हुए खजूर डाल दीजिये,
  • और फिर से चटनी को धीमी आंच पर ही 5-6 मिनिट पकने दीजिए.
  • चटनी बनकर तैयार है, गैस बंद कर दीजिए.
  • चटनी को प्याले में निकाल लीजिए.
  • स्वादिष्ट अमचूर की मीठी चटनी बनकर तैयार है.
  • चटनी के पूरी तरह से ठंडा होने पर इसे किसी कंटेनर में भरकर फ्रिज में रख दीजिए
  • और 6 महिने तक इसके स्वाद का मजा़ लीजिए.

सुझाव:

  • अमचूर की मीठी चटनी बनाने के लिये, गुड़ की जगह, इतनी चीनी का यूज कर सकते हैं, और बिलकुल इसी तरह चटनी बनाई जा सकती हैं.
  • चटनी फ्रिज से निकालने पर गाढ़ी लग रही हो तब उसमें थोड़ा पानी मिलाकर उसे खाने वाली कनसिसटेन्सी में बनाकर यूज किया जा सकता है.

मेथी की लौंजी

राजस्थानी परम्परागत रेसिपी है मेथी की लौंजी को मेथी का मीठा अचार भी कहा जाता है. मेथी की लौंजी स्वादिष्ट है है ही यह पाचन में भी बहुत फायदेमन्द है. इसे पूरी परांठे के साथ परोसा जा सकता है.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Fenugreek Seed Pickle

  • मेथी दाने – ¼ कप
  • चीनी – 1 कप
  • सरसों का तेल – 2 टेबल स्पून
  • सिरका – 2 टेबल स्पून
  • किशमिश – 2 टेबल स्पून
  • खजूर – 5-6
  • बडी इलायची – 2
  • लौंग – 6-7
  • काली मिर्च – ¾ छोटी चम्मच
  • हींग – ¼ छोटी चम्मच से भी कम
  • लाल मिर्च पाउडर – ½ छोटी चम्मच
  • सौंफ – 1 छोटी चम्मच (दरदरी कुटी)
  • सौंठ – 1 छोटी चम्मच
  • जीरा पाउडर – 1 छोटी चम्मच
  • काला नमक – 1 छोटी चम्मच
  • नमक – ¾ छोटी चम्मच या स्वादानुसार

विधि – How to make Fenugreek Seed Pickle

  • मेथी के दानों को साफ करके पानी से धो कर 4-5 घंटे के लिए भिगो दीजिए.
  • दानों को पानी से निकालिये, छलनी में रखकर गीले सूती कपड़े से ढककर रख दीजिये.
  • 2 दिन में ये दाने अंकुरित हो जाते हैं.
  • पैन में तेल डालकर गरम कीजिए.
  • तेल गरम होने पर इसमें हींग और जीरा पाउडर डालकर हल्का सा भून लीजिए.
  • अब इसमें अंकुरित मेथी डालकर मिक्स कीजिए.
  • सौंफ पाउडर, सौंठ पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, सादा नमक, काला नमक और आधा कप पानी डालकर मिक्स करें.
  • मेथी को ढककर के 3-4 मिनट के लिए धीमी आग पर पकने दीजिए.
  • बडी़ इलायची, लौंग, काली मिर्च को दरदरा कूट लीजिए और खजूर को काट कर तैयार कर लीजिए.
  • मेथी को चैक कीजिए,
  • इसमें चीनी और ¼ कप पानी मिलाकर मिक्स कीजिए,
  • चीनी पिघलने तक पकाएं और किशमिश, छुहारे(खजूर) और दरदरा कूटा मसाला डालकर लौंजी को गाढा़ होने तक पकने दीजिए.
  • बीच -बीच में लौंजी को चलाते भी रहें.
  • गैस मीडीयम रखें.
  • मेथी की लौंजी बनकर के तैयार है, गैस बंद कर दीजिए
  • और लौंजी को थोडा़ ठंडा होने दीजिए.
  • लौंजी के ठंडा होने पर इसमें सिरका मिक्स कीजिए और प्याले में निकाल लीजिए.
  • लौंजी के पूरी तरह से ठंडा होने पर इसे किसी कंटेनर में भर कर रख दीजिए
  • और 6 महिने तक जब भी आपका मन करे इसके स्वाद का मजा लीजिए

सुझाव –

  • लौंजी भरने के लिये कन्टेनर को उबलते पानी से धोइये और धूप में अच्छी तरह सूखा लीजिये.
  • कन्टेनर को ओवन में भी सुखाया जा सकता है.
  • जब भी लौंजी कन्टेनर से निकालें, साफ और सूखे चम्मच का प्रयोग कीजिये,
  • लौंजी अगर जम गई हो तो आप इसमें 2-3 टेबल स्पून गर्म पानी डालकर इसे पतला कर सकते हैं.

अलसी की सूखी चटनी

अलसी डार्क ब्राउन कलर के बीज होते है. प्रोटीन और फाइबर से भरे होने के साथ विटेमिन B1, मिनरल्स और आवश्यक फैटी एसिड्स ओमेगा – 3, ओमेगा- 6 से भरपूर एन्टीओक्सीडेन्ट अलसी का प्रयोग हमें अपने खाने में अवश्य करना चाहिये.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Flax Seeds Podi

  • अलसी के बीज – ½ कप
  • करी पत्ता – ½ कप
  • साबुत धनियां – 4 छोटी चम्मच
  • साबुत लाल मिर्च – 4
  • सूखा नारियल – ½ कप (कद्दूकस किया हुआ)
  • मूंगफली – 3-4 टेबल स्पून
  • तिल – 2 टेबल स्पून
  • जीरा – 2 छोटी चम्मच
  • काली मिर्च – 2 छोटी चम्मच
  • काला नमक – 2 छोटी चम्मच
  • नमक – ½ छोटी चम्मच
  • हींग – 2-3 पिंच

विधि – How to make Flax Seed Chutney Powder

  • अलसी की चटनी बनाने के लिए अलसी को भून लीजिए.
  • इसके लिए कढा़ई को गरम कीजिए इसमें अलसी के बीज डाल दीजिये,
  • और मीडियम आग पर लगातार चलाते हुए अलसी के दाने भूनें,
  • इसमें से चटपट की आवाज आने लगे तो यह भून कर तैयार हो जाती है,
  • इसे भूनने में 2-3 मिनिट का समय लग जाता है.
  • अलसी भुनने के बाद थोड़ी फूली हुई दिखाई देती है, इसे आप खाकर भी चैक कर सकते हैं,
  • भुनी अलसी क्र्सिपी और खाने में अच्छी लगती है.
  • अलसी भून जाने पर इसे प्लेट में निकाल लीजिए.
  • कढा़ई में करी पत्ता डालें और इसे धीमी और मीडियम आग पर 3 मिनिट के लिए लगातार चलाते हुए भून लीजिए,
  • करी पत्ता ड्राई होने तक भूनकर अलग प्याले में निकाल लीजिये.
  • अब कढा़ई में साबुत धनिया, लाल मिर्च और जीरा डालकर लगातार चलाते हुए हल्का सा ब्राउन होने तक भून लीजिए.
  • लगभग 1 मिनिट भूनने के बाद इन्हें आप अलसी के भूने बीजों पर ही डाल दीजिए.
  • अब कढा़ई में तिल डालकर भूनें इन्हें भी हल्का कलर चेन्ज होने तक भून लीजिए और प्लेट में निकाल लीजिये.
  • अब नारियल को भी लगातर चलाते हुए हल्का कलर चेन्ज होने तक भून लीजिए और प्लेट में निकाल लीजिये.
  • इसके बाद मूंगफली के दाने और काली मिर्च को भून लें और प्लेट में निकाल लें,
  • इन सभी चीजों को ठंडा होने दीजिए.
  • ठंडा होने के बाद सभी चिजों को मिक्स करके इसमें काला नमक, सादा नमक, हींग और भूने हुए करी पत्ते डाल कर, मिक्सी में दरदरा पीस लीजिए.
  • अलसी की सूखी चटनी बनकर तैयार है इसे प्लेट में निकाल लीजिए.
  • अलसी की चटनी को परांठे, चपाती और चावल के साथ खाया जा सकता है.
  • इस चटनी को आप सब्जी़ या दाल में डालकर भी खा सकते हैं.
  • अलसी की चटनी से आप आटे में डालकर या भरकर नमकीन परांठे बना सकते हैं.
  • सब्जी में डालकर उसका स्वाद और पौष्टिकता बढ़ा सकते हैं.
  • अलसी की चटनी को एअर टाइट कन्टेनर में भर कर रख लीजिये और 1 महिने तक खाते रहिए.

सुझाव : अलसी की चटनी में आप मिर्च अपने स्वाद के अनुरूप डाल सकते हैं. अगर ज्यादा तीखा पसंद है तो मिर्च की मात्रा बढा़ सकते हैं और अगर तीखा पसंद नही है तो आप इसमें मिर्च लाल मिर्च बिलकुल भी न डालें.

बेसन की चटनी

खट्टे दही और बेसन को पकाकर, देशी मसालों के तड़के से बनी बेसन की चटनी फाफड़ा के साथ तो परोसी जाती ही है, इसे दोसा, इडली के साथ भी परोस सकते हैं.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Bombay Besan Chutney

  • बेसन – ¼ कप
  • खट्टा दही – ¼ कप
  • हरा धनिया – 2-3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
  • हरी मिर्च – 2
  • अदरक – 1 इंच
  • तेल – 2 टेबल स्पून
  • राई – ½ छोटी चम्मच
  • हींग – 1 पिंच
  • लाल मिर्च पाउडर- ¼ छोटी चम्मच से कम
  • चीनी – 1 छोटी चम्मच
  • नमक – स्वादानुसार

विधि – How To Make Besan Chutney

  • सबसे पहले एक बडे़ प्याले में बेसन और दही का घोल तैयार करें.
  • गुठलियां खत्म होने तक चिकना घोल बना लीजिये,
  • अब इसमें दो कप पानी डाल दीजिए.
  • घोल को अच्छी तरह मिक्स करते हुए तैयार कर लीजिये.
  • अब मिक्सर में मिर्च, अदरक और थोडा सा हरा धनिया डाल पेस्ट बना लीजिए.
  • तैयार पेस्ट को बेसन-दही के घोल में डाल कर मिक्स कर लीजिए.
  • कढा़ई में तेल डाल कर गरम कीजिये, थोड़ा सा तेल बचा लीजिये.
  • तेल गरम होने पर इसमें राई डाल दीजिए और थोड़ी सी राई भी बचाकर रखिये,
  • राई के भूनने पर इसमें हींग डाल दीजिए, अब इसमें बेसन-दही का घोल डाल दीजिए.
  • गैस की फ्लेम को तेज कर दीजिए और इसे लगातार चलाते हुए अच्छे से उबाल आने तक पकाएं.
  • उबाल आने पर इसमें नमक, चीनी, थोडी़ सी लाल मिर्च डाल कर चटनी को धीमी आंच पर 6-7 मिनट तक पकने दीजिए
  • और चटनी को बीच-बीच में चलाते भी रहें.
  • चटनी बनकर के तैयार है.
  • गैस बंद कर दीजिए, चटनी को किसी प्याले में निकाल लीजिए.
  • चटनी में स्वाद को बढा़ने के लिए इसमें एक बार फिर से तड़का लगा लीजिए.
  • इसके लिए पैन में थोड़ा सा तेल डालकर गरम कीजिये,
  • गरम तेल में राई डालकर तड़्काइये, आग बन्द कर दीजिये,
  • अब इसमें लाल मिर्च पाउडर डाल दीजिये और तड़के को चटनी में डालिये और मिक्स कर दीजिए.
  • हरे धनिए के साथ गार्निश कीजिए.
  • बेसन की स्वादिष्ट चटनी बनकर तैयार है.

जिमीकंद की चटनी

जिमीकन्द की चटनी बहुत ही स्वादिष्ट बनती है, फाइबर से भरपूर तासीर में गरम जिमीकन्द की चटनी सर्दी के मौसम में बनाकर फ्रिज में रखकर महिने भर तक उपयोग की जा सकती है.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Elephant Yam Chutney

  • जिमीकंद – 250 ग्राम
  • सरसों का तेल – 2-3 टेबल स्पून
  • हल्दी पाउडर – 1 छोटी चम्मच
  • अजवायन – ¼ छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर – ½ छोटी चम्मच
  • हींग – 2 पिंच
  • अदरक – 1 छोटी चम्मच (पेस्ट)
  • नमक – 2 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
  • नींबू – 1 रस निकाल लीजिये.

विधि – How to make Suran Chutney

  • जिमीकंद को छीलकर छोटे-छोटे टुकडों में काट लीजिए.
  • अच्छी तरह धोकर कुकर में उबाल लीजिए.
  • 1 सीटी आने पर गैस धीमी कर दीजिए और धीमी आंच पर 2 मिनिट ओर उबलने दीजिए.
  • प्रेशर खतम होने पर जिमीकंद को कुकर से निकाल कर छलनी में रख लीजिये.
  • जिमीकन्द से सारा पानी निकलने और जिमीकंद को ठंडा होने के बाद प्याले में निकाल कर मैशर की मदद से अच्छी तरह से मैश कर लीजिए.
  • इसमें तेल, लाल मिर्च पाउडर, नमक, हल्दी पाउडर, अजवायन, अदरक का पेस्ट, हींग और नींबू का रस डालकर सभी चीजों को अच्छी तरह से मिक्स कर लीजिए.
  • जिमीकंद की चटनी तैयार है.
  • चटनी को अभी भी खाया जा सकता है, लेकिन इसका असली स्वाद 3 दिन के बाद मिलेगा, जब सारे मसाले इसमें अच्छे से जज़्ब हो जायेंगे.
  • चटनी को 2-3 दिन के लिए धूप में रख दीजिए और अगर धूप न हो तो आप इसे कमरे में ही रखे रहने दीजिए.
  • चटनी को कन्टेनर में भरकर रख लीजिये. 10-12 दिन तक इस चटनी का उपयोग कर सकते हैं.
  • अगर आप इसे फ्रिज में रखते हैं तो 2-3 महीनों तक इसे उपयोग में ला सकते हैं.
  • जिमीकंद की चटनी को चपाती, परांठे या पूरी किसी के भी साथ परोसिये और खाइये.

सुझाव: चटनी में हींग की जगह 10 -12 लहसन की कली बारीक काट कर या कूट कर बारीक करके डाला जा सकता है. जिस कन्टेनर में चटनी भर कर रख रहें हैं, उसे उबलते पानी से धोइये और धूप में सुखा लीजिये.

ग्रीन चिल्ली सास

ग्रीन चिल्ली सास को समोसे, कचौड़ी या पकोड़े या सेन्डविच, चाऊमीन , मंचुरियन, पुलाव या पास्ता में प्रयोग किया जाता है. इसे बनाना बहुत आसान है.

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Homemade green chilli hot sauce

  • मोटी वाली हरी मिर्च (कम तीखी)- 100 ग्राम
  • पतली छोटी हरी मिर्च (तीखी वाली) – 100 ग्राम
  • सिरका – 3/4 कप
  • जीरा – 2 छोटे चम्मच
  • अदरक – 2 इंच टुकड़ा
  • नमक – 2 छोटे चम्मच (स्वादानुसार)
  • हींग – 2-3 पिंच (पिसी हुई 1/4 छोटी चम्मच)
  • तेल – 2-3 टेबल स्पून

विधि – How to make Homemade green chilli hot sauce

  • हरी मिर्च को अच्छी तरह धोकर पानी सूखने तक सुखा लीजिये, डंठल तोड़ कर अलग कर दीजिये.
  • अब मिर्च को बड़े बड़े टुकड़े में काट लीजिये.
  • अदरक धोकर छील कर टुकड़ों में काट लीजिये.
  • पैन में तेल डालकर गरम कीजिये, जीरा डालिये,
  • जीरा भुनने पर हींग डालिये और हल्का सा भूनिये और कटे हुये हरी मिर्च और अदरक डालकर 1 मिनिट चलाते हुये भून लीजिये,
  • नमक भी डालकर मिला दीजिये.
  • आधा कप पानी डालिये और धीमी आग पर ढककर 5-6 मिनिट तक पकने दीजिये.
  • ढक्कन को खोलकर मिर्च को चमचे चला दीजिये
  • और फिर से ढककर 5-6 मिनिट धीमी आग पर ही पकने दीजिये.
  • मिर्च को 12-15 पकने के बाद, हरी मिर्च नरम हो गई हैं, अगर इनमें पानी दिखाई दे रहा तो खुले में तेज आग करके पानी को जलने तक पका लीजिये.
  • पकी हुई मिर्च को मिक्सर जार में डालिये
  • और जितना सिरका पीसने के लिये जरूरी हो उतना सिरका मिला कर बारीक पीस लीजिये.
  • बचे हुये सिरके को भी पिसी मिर्च में डालकर मिला दीजिये.
  • तीखा तीखा चिल्ली सास तैयार है,
  • चिल्ली सास को कन्टेनर में भर कर 2-3 महिने तक और फ्रिज में रखकर 6 महिने तक प्रयोग किया जा सकता है
  • इसकी शेल्फ लाइफ बढ़ाने के लिये आप इसमें आधा छोटी चम्मच एसीटिक एसिड मिला सकते हैं.

सुझाव: सिरका किसी भी तरह का लिया जा सकता है. कन्टेनर जिसमें आप चिल्ली सास भर रहें है, उसे उबलते पानी से धोइये और धूप में सुखा लीजिये, कन्टेनर को ओवन में रखकर भी सुखाया जा सकता है.